Connect with us

Home remedies

ड्रैगन फ्रूट के फायदे और नुकसान | कमलम के फायदे

Published

on

ड्रैगन फ्रूट के फायदे और नुकसान- इस फ्रूट का नाम बदलकर कमलम रखा गया है। हाल ही में गुजरात सरकार ने ड्रैगन फ्रूट का नाम कमलम रखने की घोषणा की है। लोगों का कहना है की ड्रैगन फ्रूट कमल जैसा दिखता है इसलिए इसका नाम कमलम होना चाहिए। इस लेख में जानेगे कमलम के फायदे और नुकसान क्या-क्या होते हैं।

ड्रैगन फ्रूट या कमलम क्या है?

ड्रैगन फ्रूट दक्षिणी अमेरिका तथा मध्य अमेरिका में पाए जाने वाला जंगली कैक्टस की एक प्रजाति है। अमेरिकी देशों वाले ड्रैगन फ्रूट की खेती को पुराने समय से थाईलैंड और वियतनाम जैसे दक्षिण-पूर्वी एशियाई देशों में की जा रही है।

लेकिन पिछले कुछ सालों से और ख़ासकर गुजरात के कच्छ इलाक़े के किसानों ने इसकी खेती में काफी रूचि दिखाई है क्योंकि ड्रैगन फ्रूट की खेती करने से उनको अच्छे-खासे मुनाफे मिल जाते हैं।

ड्रैगन फ्रूट-कमलम

हाल ही में गुजरात सरकार ने ड्रैगन फ्रूट का नाम बदलकर कमलम रखने की घोषणा की है। बताया जाता है की कमलम 300 रूपये से 400 रूपये किलो में आसानी से बिक जाता है तथा कमलम (ड्रैगन फ्रूट) को बेचने की कोई भी परेशानी किसानो को नहीं झेलनी पड़ती है। इसका इस्तेमाल एक औषधि के रूप में किया जाता है। इसके सेवन से बहुत सारी बीमारियों से छुटकारा मिलता है जिसके कारण इसकी मांग दिन पर दिन बढ़ती जा रही है।

ड्रैगन फ्रूट को हिंदी में क्या बोलते हैं?

ड्रैगन फ्रूट को हिंदी में पिताया (Pitaya), स्ट्रॉबेरी पीयर और कमलम नाम से जाना जाता है। इसे कुछ लोग अजगर फल भी बोलते हैं। इसका वैज्ञानिक नाम Hylocereus Undatus है।

ड्रैगन फ्रूट में पाए जाने वाले पोषक तत्व

ड्रैगन फ्रूट में बहुत सारे पोषक तत्व मौजूद होते हैं जैसे – विटामिन बी-3, फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट के साथ-साथ फ्लेवोनोइड, फेनोलिक एसिड, एस्कॉर्बिक एसिड और इसमें एंटीऑक्सीडेंट और एंटीवायरल गुण भी पाए जाते हैं।

ड्रैगन फ्रूट खाने का तरीका

ड्रैगन फ्रूट खाने का तरीका– ड्रैगन फ्रूट को अलग-अलग रूपों में खाया जा सकता है जैसे –

  • ड्रैगन फ्रूट को सीधे काटकर खा सकते हैं।
  • ड्रैगन फ्रूट को भोजन के साथ सलाद के रूप में खा सकते हैं।
  • इसको फ्रिज में रखकर बाद में खा सकते हैं।
  • ड्रैगन फ्रूट का शेक बनाकर भी पिया जाता है।
  • ड्रैगन फ्रूट का मुरब्बा, जेली तथा कैंडी आदि बनाकर भी इस्तेमाल में लाया जाता है।

कमलम के फायदे (ड्रैगन फ्रूट)

कमलम में बहुत सारे विटामिन तथा औषधीय गुण होने के कारण यह बहुत सारी बीमारियों में फायदेमंद होता है। आइये जानते हैं ड्रैगन फ्रूट या कमलम के औषधीय गुण कौन-कौन से होते हैं और यह किस बीमारियों में फायदेमंद होते हैं।

इम्युनिटी बढ़ाने के लिए कमलम के फायदे

इम्युनिटी बढ़ाने के लिए कमलम के फायदे निम्नलिखित रूप में मिलते है क्योंकि इसमें इम्यून सिस्टम को बढ़ाने वाले पोषक तत्व भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं जिस कारण इसका सेवन करने से इम्युनिटी मजबूत होती है।

डेंगू के लिए

डेंगू के उपचार के लिए ड्रैगन फ्रूट के बीजों का इस्तेमाल कर सकते है क्योंकि इसके बीजों में एंटीऑक्सीडेंट और एंटीवायरल गुण पाए जाते हैं जो डेंगू के लक्षणों को कम करने में सहयक हो सकते हैं।

गठिया रोग की की समस्या के लिए

गाड़िया रोग ऐसी बीमारी है जिसके कारण हमेशा जोड़ों में दर्द रहता है इस समस्या से राहत पाने के लिए ड्रैगन फ्रूट एक अच्छी औषधि के रूप में काम कर सकता है।

पेट संबंधी समस्या के लिए

इसमें मौजूद ओलिगोसैकराइड के प्रीबायोटिक गुण आंत में हेल्दी बैक्टीरिया को बढ़ाते हैं इससे पाचन तंत्र को मजबूती मिल सकती है। इसलिए इसका सेवन पेट की समस्या के लिए फायदेमंद होता है।

कोलेस्ट्रॉल के लिए

बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल की वजह से हार्ट अटैक की सम्भावना होती है इसे नियंत्रित रखने के लिए कमलम का सेवन फायदेमंद साबित हो सकता है।

हड्डियों और दांतों के लिए

ड्रैगन फ्रूट में भरपूर मात्रा में कैल्शियम और फॉस्फोरस पाए जाते हैं जिसके कारण इसका सेवन हड्डियों तथा दांतों के लिए लाभदायक होता है।

भूख बढ़ाने के लिए

इसमें मौजूद फाइबर और विटामिन पेट की समस्या के लिए काफी लाभदायक होते हैं इसलिए इसका सेवन करने से भूख बढ़ती है।

त्वचा के लिए कमलम के फायदे

इसमें मौजूद विटामिन बी-3 त्वचा को चमकदार बनाने में बहुत लाभदायक होता है इसलिए इसका सेवन त्वचा के लिए फायदेमन्द होता है।

बालों के लिए

इसमें मौजूद फैटी एसिड के कारण बालों की रूसी से छुटकारा पाने के लिए ड्रैगन फ्रूट का सेवन बहुत लाभकारी होता है।

ड्रैगन फ्रूट के नुकसान (कमलम)

ड्रैगन फ्रूट के नुकसान– वैसे देखा जाये तो ड्रैगन फ्रूट (कमलम) के नुकसान कुछ भी नहीं होता है फिर भी इसका सेवन अलग-अलग बीमारियों तथा अपनी शारीरिक छमता के हिसाब से सिमित मात्रा में तथा किसी आयुर्वेदिक डॉक्टर की देख-रेख में करना बेहतर माना जाता है।

  • ड्रैगन फ्रूट की बाहरी परत नहीं खाना चाहिए क्योंकि इसमें कीटनाशक होते हैं।
  • ड्रैगन फ्रूट का अत्यधिक सेवन शुगर के मरीजों के लिए नुकसान दायक हो सकता है।
  • वजन घटाने में ड्रैगन फ्रूट बहुत फायदेमंद होता है लेकिन इसमें शुगर की मात्रा अधिक होने से यह नुकसान दायक भी हो सकता है।

ड्रैगन फ्रूट को हिंदी में क्या बोलते हैं?

ड्रैगन फ्रूट को हिंदी में पिताया (Pitaya), ड्रैगन फल, स्ट्रॉबेरी पीयर और कमलम नाम से जाना जाता है। इसे कुछ लोग अजगर फल भी बोलते हैं।

ड्रैगन फ्रूट का क्या रेट है?

ड्रैगन फ्रूट (कमलम) 300 रूपये से 400 रूपये किलो में आसानी से बिक जाता है।

इस लेख के जरिए हमने आपकों ड्रैगन फ्रूट के फायदे और नुकसान | कमलम के फायदे के बारे में बताया है। मुझे आशा है कि आप कमलम के फायदे के बारे में अच्छी तरह जान गए होंगे अगर अभी भी आपको कुछ सवाल पूछना है तो नीचे कमेंट में जरूर लिखें या अपनी राय हमें देना चाहते हैं तो जरूर दीजिए ताकि हम आपके लिए कुछ नया कर सकें और यदि आप इस लेख से संतुष्ट हैं तो अपने दोस्तों को अवश्य शेयर करें।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Recent Posts

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending

%d bloggers like this: