Connect with us

Home remedies

पेट में भारीपन के लक्षण और इलाज

Published

on

पेट में भारीपन के लक्षण और इलाज- पेट का भारी होना आज कल की सबसे आम समस्या हो चुकी है। इसकी खास वजह सही तरीके से खानपान का न होना है अक्सर लोग घर के भोजन को छोड़कर बाहर की चीजे ज्यादा खाते है।

उसका परिणाम यह होता है की पेट से सम्बंधित तमाम तरह की बीमारी होने लगती है। जिसके कारण न सिर्फ पेट में दिक्कत आती है बल्कि शरीर के और हिस्सों में भी तकलीफ होने लगती है।

पेट में भारीपन के लक्षण

पेट में भारीपन के लक्षण निम्नलिखित हो सकते हैं। इसलिए इस लेख में हम आपको बताएंगे की पेट में भारीपन के लक्षण, कारण और पेट में भारीपन से राहत पाने का उपाय क्या होता हैं।

पेट में भारीपन के लक्षण

पेट में भारीपन के लक्षण क्या होते हैं?

आइये जानते हैं पेट में भारीपन के लक्षण क्या-क्या होते हैं ताकि इसका जड़ से आयुर्वेदिक इलाज कर सकें।

No. 1बेचैनी होना।
No. 2थकावट आना।
No. 3सर में दर्द रहना।
No. 4पेट में ऐंठन होना।
No. 5भूख कम लगना।
No. 6गैस निकलने पे बदबू आना।
No.7हिचकी आना।
No. 8उलटी जैसा मन होना।

पेट में भारीपन का कारण

आयुर्वेद के अनुसार पेट में भारीपन का कारण एकमात्र भोजन का अनियमित तरीके से करना होता है। आइये जानते हैं पेट में भारीपन के और कौन-कौन से कारण होते हैं।

  • अनियमित भोजन करना पेट में भारीपन का सबसे बड़ा कारण होता है।
  • ज्यादा मात्रा में समोसे , छोले आदि का रोजाना सेवन करना।
  • बहुत कम मात्रा में पानी पीना।
  • जरूरत से ज्यादा खाना खा लेना।
  • भोजन को अच्छी तरह से चबा-चबा कर न खाना।

अगर आपके पेट में भारीपन की समस्या लगातार बनी रहती है तो किसी अच्छे डॉक्टर से अवस्य मिलें क्योकि यह समस्या किसी बीमारी का संकेत भी हो सकती है।

पेट में भारीपन की समस्या में क्या न खाये?

ज्यादातर लोग अपने खाने-पीने में लापरवाही करते हैं और कुछ भी कभी भी खा लेते हैं जिस कारण उनके पेट में भारीपन की समस्या बनी रहती है। आइये हम बताते हैं की अगर आपके पेट में भारीपन रहता है तो कब क्या नहीं खाना चाहिए।

  • चाट, पकौड़े, गोलगप्पे, समोसे, कचोरी, छोले, आदि न खाएं।
  • अचार व सिरके से बनी चीजें ज्यादा न खाएं।
  • चाय और कॉफी पीना बिल्कुल बंद कर दें।
  • दही को गर्म करके कभी न खाएं।
  • रात में मूली और बैंगन का सेवन न करें।

पेट में भारीपन का आयुर्वेदिक इलाज

आजकल पेट में भारीपन रहना एक आम समस्या बन चुकी है इसका मुख्य कारण है बाहर की चीजों का ज्यादा सेवन करना। लेकिन हम अपनी दिनचर्या और खान-पान में बदलाव लाकर तथा आयुर्वेदिक उपायों को अपनाकर इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।

  • अपने भोजन को धीरे-धीरे और चबा-चबा कर खाने की आदत डालें। ऐसा करने से भोजन आसानी से पचता है और पेट गैस की भी समस्या उत्पन्न नहीं होती है।
  • पेट में भारीपन की समस्या को दूर करने में अजवाइन एक रामबाण औषधि के रूप में मणि जाती है क्योंकि इसमें थाइमोल होता है जो पेट की गैस को दूर करने में मदत करता है। इसके लिए एक चम्मच अजवाइन को एक गिलास गर्म पानी के साथ लेना चाहिए।
  • रोजाना दोपहर में खाने के बाद एक गिलास छाछ में भुना हुआ जीरा और सुखा अदरक पाउडर मिलकर पिए।
  • पेट में भारीपन की समस्या से राहत पाने के लिए खाने के बाद एक या दो चुटकी सौंफ खाने की आदत डालें।
  • गुनगुने पानी में सेब का सिरका मिलाकर पिए।
  • पेट की समस्या के लिए पुदीने का जूस पीना चाहिए।
  • एक गिलास पानी में नींबू निचोड़ कर उसमें थोड़ा सा काला नमक, जीरा, अजवाइन, दो चम्मच मिश्री और पुदीने का रस मिलकर पिए। पेट की समस्या से तुरंत राहत मिलता है।
  • सुबह खाली पेट कच्चा लहसुन खाये।

पेट में भारीपन की समस्या के लिए जीरा पानी

पेट में भारीपन की समस्या के लिए जीरा पानी पीना भी एक कारगर उपाय है क्योकि जीरे में मौजूद तेल लार ग्रंथियों को उत्तेजि कर बेहतर पाचन में मददगार होता है। और हमारे पेट में गैस बनने से रोकता है।

इसके लिए एक चम्मच जीरा को दो कप पानी में 10 से 15 मिनट के लिए उबालें और इसे ठंडा होने दें और इस पानी को खाने के बाद पिए। ऐसा रोजाना करने से पेट में भारीपन और पेट की गैस जैसी समस्या से राहत मिलती है।

पेट की समस्या के लिए हींग

आयुर्वेद के अनुसार पेट की समस्या और वात दोष को दूर करने के लिए हींग का बहुत बड़ा योगदान रहता है क्योकि हींग एक antiflatulent के रूप में काम करता है जो पेट में अतिरिक्त गैस उतपन्न करने वाले आंत वैक्टीरिया को रोकता है।

इसके लिए आधा चम्मच हींग को एक गिलास गरम पानी में मिलाये और पि लें। ऐसा करने से पेट की समस्या से राहत मिलती है।

पेट में भारीपन की समस्या के लिए त्रिफला चूर्ण

पेट में भारीपन की समस्या के लिए त्रिफला चूर्ण के निम्नलिखित रूप से फायदे मिलते हैं इसके लिए आधा चम्मच त्रिफला चूर्ण को एक गिलास पानी में 10 मिनट तक उबालें और इसे सोने से पहले पी लें। ऐसा रोजाना करने से पेट की समस्या से राहत पा सकते हैं।

पेट में भारीपन क्यों लगता है?

चाट, पकौड़े, गोलगप्पे, समोसे, कचोरी, छोले, आदि को ज्यादा खा लेने से पेट में भारीपन लगने लगता है।

इस लेख के जरिए हमने आपकों पेट में भारीपन के लक्षण और इलाज के बारे में बताया है। मुझे आशा है कि आप पेट में भारीपन के लक्षण के बारे में अच्छी तरह जान गए होंगे अगर अभी भी आपको कुछ सवाल पूछना है तो नीचे कमेंट में जरूर लिखें या अपनी राय हमें देना चाहते हैं तो जरूर दीजिए ताकि हम आपके लिए कुछ नया कर सकें और यदि आप इस लेख से संतुष्ट हैं तो अपने दोस्तों को अवश्य शेयर करें।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Recent Posts

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending

%d bloggers like this: