Connect with us

Diet

आलू बुखारा के फायदे एवं नुकसान | Aloo bukhara

Published

on

आलू बुखारा के फायदे – Aloo bukhara – आलू बुखारा एक प्रकार का पौष्टिक और मौसमी फल है। जिसको दो तरीको से ताजा और सुखाकर खाया जाता है। इसका स्वाद मीठा और हल्का खट्टा होता है। इसका छिलका बहुत ही नरम तथा गुदा चिपचिपा है।

Table of Contents

आलू बुखारा को इंग्लिश में क्या कहते हैं?

आलू बुखारा को इंग्लिश में plum कहते हैं और इसका वैज्ञानिक नाम Prunus domestica है। हिंदी में इसे आलूबुखारा के नाम से जानते हैं।

आलूबुखारा में कौन सा विटामिन पाया जाता है?

यह एक गुठली वाला फल है। जो छोटे और गोल आकार का होता है। इसका रंग लाल और बैगनी हो सकता है। आलू बुखारा अपने स्वाद और औषधिय गुणो के कारण बहुत मशहूर है। इसमें ऊर्जा, वसा, प्रोटीन, विटामिन, फाइबर, शुगर, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, ज़िंक और फॉस्फोरस इत्यादि पौष्टिक तत्व होते है। आलूबुखारा की तासीर ठंडी होती है।

आलू बुखारा के फायदे

आलू बुखारे में भरपूर मात्रा में विटामिन तथा पौष्टिक गुण होने की वजह से इसको एक औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। आइये जानते हैं की आलूबुखारा खाने से हमें कौन-कौन से शारीरिक लाभ मिलते हैं।

आलू बुखारा

आंखों के लिए आलू बुखारा के फायदे

आंखों के लिए आलूबुखारा खाने के फायदे हमें निम्नलिखित रूप से मिलते हैं क्योंकि इसमें मौजूद विटामिन-सी आंखो और त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। इसके उपयोग करने से आंखे स्वस्थ तथा चमकदार हो सकती हैं।

कैंसर से बचने के लिए आलूबुखारा

आलूबुखारे में एंटी ऑक्सीडेंट, बीटा कैरोटीन तथा कई ऐसे पोषक तत्व मौजूद होते हैं जिनकी वजह से हमारे शरीर को कैंसर होने का खतरा कम हो जाता है।

शुगर को नियंत्रित करने में आलूबुखारा

शुगर को नियंत्रित करने में आलूबुखारा बहुत ही फायदेमंद होता है क्योंकि इसके सेवन से शुगर की मात्रा नियंत्रित रहती है। इसका सेवन शुगर के मरीज भी कर सकते हैं।

पाचन क्रिया मजबूत बनाने के लिए आलूबुखारा

पाचन क्रिया मजबूत बनाने के लिए आलूबुखारा बहुत ही फायदेमंद होता है क्योंकि इसमें भरपूर मात्रा में फाइबर, सोर्बिटोल तथा आईसटीन होने के कारण यह पेट से सम्बंधित समस्या से लड़ने में काफी मददगार साबित होता है। और पाचन क्रिया को मजबूत बनता है।

हड्डियों के लिए फायदेमंद आलू बुखारा

आलू बुखारा (Aloo bukhara) में विटामिन-K होता है, जो हमारी हड्डियों को मजबूत बनाता है। और उनका द्रव्यमान बढ़ाता है जिससे हड्डियों के स्वास्थ्य में वृद्धि आती है। और Aloobukhara हमें फिट रखता है।

रक्त निर्माण में सहायक आलूबुखारा

आलूबुखारा – Aloo bukhara का फल खाने से शरीर में खून की कमी पूरी होती है। इसमें मौजूद आयरन की वजह से शरीर में रक्त निर्माण की प्रक्रिया बढ़ जाती है इस कारण यह हमें खून की कमी को महसूस नहीं होने देता है।

आलू बुखारा से घटायें अपना वजन

आलूबुखारा के फल को खाने से पेट की चर्बी कम होती है जिससे आपका पेट स्लिम हो जाता है। इसके अलावा यह भूख पर नियंत्रित करके शरीर में ऊर्जा बनाये रखता है, जिस वजह से हम अपना वजन कम कर सकते है।

मधुमेह रोगियों के लिए आलूबुखारा

शुगर के मरीज आलू बुखारा का सेवन आसानी से कर सकते है। हालांकि यह मीठा फल होता है, मगर इसमें शर्करा की मात्रा ना के बराबर होती है। यह ब्लड शुगर को नियंत्रित रखता है और शुगर बढ़ने नहीं देता है।

इम्युनिटी बढ़ाये आलूबुखारा

जिन लोगों को मौसम के कारण छोटी-छोटी बीमारी जैसे सर्दी, जुखाम, और खांसी हो जाती है, उनके लिए आलूबुखारा का फल बहुत ही फायदा करता है। इसमें विटामिन-C होता है, जिसकी वजह से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ जाती है।

आलूबुखारा करे दिमाग को तेज

यह फल दिमाग की शक्ति को बढ़ाने में मदद करता है इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट दिमाग पर होने वाले फ्री रेडिकल्स के प्रभाव को कम करता है और एकाग्रता तथा याददाश्‍त को मजबूत बनाता है।

आलू बुखारा के नुकसान

आइये जानते हैं आलूबुखारा के सेवन से हमें क्या-क्या नुकसान हो सकते हैं।

  • आलूबुखारा के अत्यधिक सेवन से पेट में गैस और दस्त की समस्या हो सकती है।
  • इसकी अधिकता से सीने में जलन और उल्टी जैसी समस्या हो सकती है।
  • ज्यादा मात्रा में आलूबुखारा खाने से हमारी साँसो में तकलीफ होने लगाती है।
  • आपको सभी को आलूबुखारा एक दिन में 250 ग्राम से ज्यादा नहीं खाना चाहिए।
  • आलूबुखारा किसी भी प्रकार की चल रही दवा के प्रभाव को कम कर देता है, इसलिए जब तक आपकी दवा चल रही हो, आपको इसे कुछ दिनों तक नहीं खाना चाहिए।

FAQS: About Plum

आलूबुखारा फल को इंग्लिश में क्या कहते हैं?

आलू बुखारा को इंग्लिश में plum कहते हैं और इसका वैज्ञानिक नाम Prunus domestica है।

आलू बुखारा को हिंदी में क्या कहते हैं?

हिंदी में इसे आलूबुखारा के नाम से जानते हैं।

आलूबुखारा कौन सा फल है?

आलूबुखारा एक गुठली वाला फल है। जो छोटे और गोल आकार का होता है। इसका रंग लाल और बैगनी हो सकता है।

आलू बुखारा की तासीर क्या है?

आलूबुखारा की तासीर ठंडी होती है।

इस लेख के जरिए हमने आपकों आलू बुखारा के फायदे एवं नुकसान | Aloo bukhara के बारे में बताया है। मुझे आशा है कि आप आलू बुखारा के फायदे के बारे में अच्छी तरह जान गए होंगे अगर अभी भी आपको कुछ सवाल पूछना है तो नीचे कमेंट में जरूर लिखें या अपनी राय हमें देना चाहते हैं तो जरूर दीजिए ताकि हम आपके लिए कुछ नया कर सकें और यदि आप इस लेख से संतुष्ट हैं तो अपने दोस्तों को अवश्य शेयर करें।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Recent Posts

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending

%d bloggers like this: