Connect with us

Diet

अंकुरित मेथी के फायदे और नुकसान | fenugreek seeds

Published

on

अंकुरित मेथी के फायदे और नुकसान- मेथी (fenugreek seeds) का प्रयोग मसालों, औषधि और खाने के रूप में किया जाता है। यह छोटे छोटे दानों के आकार की होती है और इसका रंग पीला होता है। इसका पेड़ 1-2 फ़ीट लम्बा होता है।

मेथी रबी की फसल होती है जिसे बारिश के मौसम में बोया जाता है। इसके पत्तों का साग और सब्जी बनाया जाता है। जो आँखों की रोशनी के लिए बहुत लाभकारी होती है। इसकी खुशबू बहुत ही अच्छी होती है। और यह अपने अनेक गुणकारी लाभ के लिए प्रसिद्ध बहुत है।

मेथी को इंग्लिश में क्या कहते हैं?

आइये जानते हैं कि मेथी को इंग्लिश में क्या कहते हैं?- मेथी को इंग्लिश में Fenugreek कहते हैं। और मेथी के बीज को fenugreek seeds कहते हैं। मेथी का वैज्ञानिक नाम Trigonella foenum-graecum है। मेथी की तासीर गर्म होती है।

मेथी के बारे में कुछ सामान्य जानकारी

सामान्य नाममेथीFenugreek
वैज्ञानिक नामट्रिगोनेल्ला फोनीम ग्रीकमTrigonella foenum-graecum
परिवार का नामफैबेसीfabesie
मेथी की तासीरगर्मhot
प्रयोग किया जाने वाला भागपत्ते और बीजleaves and seeds

मेथी के उपयोग की विधि

मेथी को कई तरीके से उपयोग में लाया जाता है आइये जानते हैं मेथी के उपयोग करने के तरीके क्या होते हैं।

  • मेथी का तेल इसके बीजों से निकाला जाता है। इसके बहुत सारे फायदे होते है।
  • मेथी का सेवन पानी में रातभर भिगोकर भी किया जाता है।
  • मेथी के पत्तों का साग बनाया जाता है। जिसका प्रयोग बहुत ही अच्छा माना जाता है।
  • मेथी की पत्तियों को सुखाकर उसकी औषधि बनाई जाती है।
  • मेथी के बीजो को तवे पर भूनने के बाद उसे पीसकर उसका चूर्ण बनाया जाता है। जो की पेट के लिए बहुत फायदा करता है।
  • मेथी के चूर्ण का प्रयोग अचार के मसालों के रूप में किया जाता है।
  • मेथी का उपयोग चाय बनाने में भी किया जाता है।

मेथी में पाए जाने वाले पौष्टिक तत्व

मेथी में ऊर्जा, प्रोटीन, विटामिन-A, विटामिन B -6, विटामिन-C, जिंक, आयरन, पोटैशियम, फाइबर, सोडियम, कार्बोहाइड्रेट, फास्फोरस, कैल्शियम, मैग्नीशियम, मैंगनीज, राइबोफ्लेविन, फैटी एसिड और थायमिन आदि पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं।

अंकुरित मेथी के फायदे

अंकुरित मेथी के फायदे

अंकुरित मेथी के फायदे हमारे शरीर को निम्नलिखित रूप से मिलते हैं आइये जानते हैं की अंकुरित मेथी के फायदे क्या-क्या होते है।

  • अंकुरित मेथी के इस्तेमाल से पाचन शक्ति मजबूत होती है।
  • डायबिटीज को नियंत्रण में रखने के लिए अंकुरित मेथी बहुत फायदेमंद होती है।
  • अंकुरित मेथी के सेवन से वजन नियंत्रण रहता है।
  • अंकुरित मेथी खाने से दिल से जुड़ी बीमारियां खत्म होती हैं।
  • अंकुरित मेथी खाने से फोटोकेमिकल्स नाम के एक तत्व में इजाफा आता है जो बहुत फायदेमंद है।

मेथी के फायदे

मेथी के फायदे निम्नलिखित होते हैं इसके सेवन से कई प्रकार के रोगों से छुटकारा मिलता है। आइये जानते हैं इसके सेवन से हमें क्या-क्या लाभ मिलते हैं।

गठिया रोग में सहायक

मेथी के पाउडर को गरम पानी के साथ मिलाकर पेस्ट तैयार कर ले उसके बाद पेस्ट को जोड़ो के दर्द वाली जगह पर लगाए। ऐसा करने से दर्द से राहत मिलती है। इसके अलावा मेथी के दानो को पानी में भिगो कर सुबह खाने से बहुत ही अच्छा लाभ मिलता है।

सर्दियों में विशेष फायदे


सर्दियों में मेथी का उपयोग बहुत ही लाभकारी होता है। यह हमें बुखार, सर्दी-जुखाम, खांसी से दूर रखता है। क्योंकि इसकी तासीर गरम होती है। और इसमें कई सारे पोषक तत्व हमारी सुरक्षा का ख्याल रखते है।

चेहरे के लिए

मेथी में एंटीरिंकल, एंटीऑक्सीडेंट और मॉइस्चराइजिंग होते है। जो हमारी त्वचा में होने वाली समस्या को दूर कर उसमे निखार लाते है।

बालों की समस्या को करे दूर

मेथी के प्रयोग से हमारे बाल मजबूत होते है। और साथ ही बालों का टूटना बंद हो जाता है। सर में रुसी की समस्या को ख़तम कर के बालों की जड़ो को मजबूत बनाता है।

किडनी को रखे स्वस्थ

मेथी का सेवन किडनी की कार्य क्षमता को बढ़ाता है। क्योकि इसके दानों में पॉलीफेनोलिक फ्लेवोनोइड पाया जाता है। जिससे हमारी किडनी अच्छे से काम करती है। और यह किडनी को मजबूत भी बनाता है।

पेट की समस्या का समाधान

मेथी के सेवन से पेट में गैस, जलन और कब्ज सही हो जाता है। इसमें मौजूद फाइबर हमारे पाचन को सही कर पेट की सभी समस्या को दूर कर देता है।

रक्त-दाब को संतुलित करें

मेथी का प्रयोग हमें ह्रदय रोगो से बचाता है। इसके अलावा यह रक्त-दाब को संतुलित करके दिल का दौरा और अन्य बीमारियों से हमें दूर रखता है।

मधुमेह रोगियों के लिए

मेथी के बीजों को पानी में रात भर भिगो कर सुबह के समय चबा-चबा कर खाने से बहुत ही लाभ होता है। इससे शुगर की वजह से आयी कमजोरी ख़तम होती है। और इसमें मौजूद फाइबर की वजह से शरीर में शुगर सोखने की क्षमता कम होती है। और शुगर लेवल कम होने लगता है।

मेथी खाने के नुकसान

अंकुरित मेथी के फायदे तो कई हैं लेकिन इसके कुछ नुकसान भी हो सकते हैं आइये जानते हैं की मेथी खाने के नुकसान हमें क्या-क्या हो सकते हैं।

  • मेथी के ज्यादा प्रयोग से पेट में दर्द, दस्त, गैस, पेशाब में दुर्गन्ध और सीने में जलन जैसी समस्या हो सकती है।
  • मेथी का प्रयोग गर्भवती महिला को नहीं करना चाहिए। वरना इसका बुरा असर होने वाले बच्चे के दिमाग पर पड़ सकता है।
  • मेथी का प्रयोग चेहरे पर करने से पहले थोड़ा सा त्वचा पर लगाकर जाँच कर लेना चाहिए। की इसके प्रयोग से कोई दुष्प्रभाव तो नहीं हो रहा है।
  • मेथी का सेवन औषधि के रूप में करने से पहले अपने चिकित्सक से सलाह जरूर ले लेना चाहिए।
  • मेथी का सेवन बच्चो को नहीं करना चाहिए। क्योंकि इससे उनको दस्त की समस्या हो सकती है।

मेथी दाना को अंकुरित कैसे करें?

अंकुरित मेथी के फायदे तो कई सारे हैं लेकिन कुछ लोगों को इसे अंकुरित करने का तरीका मालूम नहीं होता है जिस कारण उनको इसका लाभ नहीं मिल पता है तो आइये जानते है की मेथी दाना को अंकुरित कैसे करते हैं।

  • सबसे पहले मेथी दाने को पानी से 2 से 3 बार अच्छे से साफ कर लें।
  • अब मेथी दाने को 10 से 12 घंटों के लिए पानी में भिगोकर रख दें।
  • अब मेथी दाने को पानी से छानकर बाहर निकाल लें।
  • अब भीगे हुए मेथी दाने को किसी सूती कपड़े में लपेट कर किसी बर्तन में दो दिन के लिए छोड़ दें।
  • दो दिन बाद आपका मेथी दाना अंकुरित हो जायेगा।

मेथी दाना को अंकुरित कैसे करें? (वीडियो)

FAQs: About fenugreek seeds

मेथी को इंग्लिश में क्या कहा जाता है?

मेथी को इंग्लिश में Fenugreek कहते हैं। और मेथी के बीज को fenugreek seeds कहते हैं। मेथी का वैज्ञानिक नाम Trigonella foenum-graecum है।

मेथी दाना खाने से क्या नुकसान होता है?

मेथी के ज्यादा प्रयोग से पेट में दर्द, दस्त, गैस, पेशाब में दुर्गन्ध और सीने में जलन जैसी समस्या हो सकती है।

मेथी दाना कब खाना चाहिए?

मेथी के बीजों को पानी में रात भर भिगो कर सुबह के समय चबा-चबा कर खाने से बहुत ही लाभ होता है। इससे शुगर की वजह से आयी कमजोरी ख़तम होती है। और इसमें मौजूद फाइबर की वजह से शरीर में शुगर सोखने की क्षमता कम होती है। और शुगर लेवल कम होने लगता है।

मेथी दाना को अंकुरित कैसे करें?

भीगे हुए मेथी दाने को किसी सूती कपड़े में लपेट कर किसी बर्तन में दो दिन के लिए छोड़ दें।
दो दिन बाद आपका मेथी दाना अंकुरित हो जायेगा।

इस लेख के जरिए हमने आपकों अंकुरित मेथी के फायदे और नुकसान | fenugreek seeds के बारे में बताया है। मुझे आशा है कि आप अंकुरित मेथी के फायदे के बारे में अच्छी तरह जान गए होंगे अगर अभी भी आपको कुछ सवाल पूछना है तो नीचे कमेंट में जरूर लिखें या अपनी राय हमें देना चाहते हैं तो जरूर दीजिए ताकि हम आपके लिए कुछ नया कर सकें और यदि आप इस लेख से संतुष्ट हैं तो अपने दोस्तों को अवश्य शेयर करें।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Recent Posts

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending

%d bloggers like this: