Connect with us

Home remedies

घुटनों का दर्द को करें जड़ से खत्म आयुर्वेदिक उपाय | ghutno ka dard

Published

on

घुटनों का दर्द – बढ़ती उम्र के साथ साथ घुटने का दर्द (ghutno ka dard) भी होना आम बात है लेकिन हम आयुर्वेदिक् तरीके से अपने शरीर का ध्यान रखते हैं तो घुटनों का दर्द से हमें छुटकारा मिल सकता है।

घुटनों का दर्द क्या होता है?

घुटनों का दर्द आमतौर पर बुजुर्ग वर्ग में देखने को मिलता है क्योंकि समय के अनुसार हड्डियां कमजोर होने लगती हैं। और ज्यादा तर चलने में या उठने बैठने में घुटनों के हड्डियों को आपस में रगड़ खाने की वजह से दर्द महसूस होता है जिसे हम घुटनों का दर्द कहते हैं।

घुटनों का दर्द

आजकल के बिगड़ती जीवन शैली और अनियमित खान-पान की वजह से युवा पीढ़ी में भी देखने को मिलती है क्योंकि गलत खान-पान की वजह और रोजाना व्यायाम न करने की वजह से उनकी हड्डिया समय से पहले कमजोर होने लगती हैं।

घुटनों का दर्द के कारण

घुटनों का दर्द के कारण निम्नलिखित हो सकते हैं जिसके कारण घुटनों में हमेशा दर्द बना रहता है आइये जानते हैं की इसके क्या-क्या कारण हो सकते हैं।

  • घुटनों की मांसपेशियों में खून का संचार सही न होने से।
  • घुटनों में गहरी चोट लगने की वजह से।
  • घुटनों की मांसपेशियों में तनाव या खिंचाव की वजह से।
  • रक्त में यूरिक एसिड का स्तर के बढ़ जाने की वजह से।
  • घुटनों में किसी भी प्रकार का संक्रमण या सूजन की वजह से।
  • अधिक वजन या मोटापा की वजह से।
  • नी कैप को अपनी जगह से हट जाने की वजह से।

घुटनों के दर्द से बचने के कुछ उपाय

घुटनों के दर्द से बचने के कुछ उपाय नीचे बताए गए हैं जिसे ध्यान में रखने से आप काफी हद तक घुटनों के दर्द की समस्या से बच सकते हैं।

  • अरबी, आलू, दही, मूली, खीरा, राजमा, भिंडी, चना का सेवन रात के समय बिल्कुल ना करें।
  • घुटनों के दर्द की समस्या से परेशान हैं तो मीट, मछली और अंडा खाना तुरंत बंद कर दें क्योंकि इससे यूरिक एसिड तेजी से बढ़ता है। और घुटने दर्द करना चालू कर देते है।
  • खाना खाने से एक घंटे पहले या बाद में पानी पिए। खाना खाते समय पानी का सेवन ना करें।
  • माइक्रोवेव या ग्रिलर में बना खाना गठिया वाले रोगियों के लिए नुकसानदायक होता है।
  • अधिक मात्रा में मीठी चीजों का सेवन करने से बचें क्योंकि इसी यूरिक एसिड बढ़ सकता है जो घुटने का दर्द बढ़ा सकता है।
  • हड्डियों की समस्या में धूम्रपान करने से बचना चाहिए।
  • घुटनों के दर्द की समस्या है तो रात को सोते समय दूध और छिलके वाली दाल का सेवन ना करें इससे यूरिक एसिड काफी मात्रा में जमा होने लगता है।

घुटनों का दर्द की आयुर्वेदिक दवा

आइये जानते हैं कि घुटनों का दर्द की आयुर्वेदिक दवा क्या होती है और इसे इस्तेमाल कैसे किया जाता है। अगर आप घुटनों के दर्द से परेशान रहते हैं तो यह दवा आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकती है।

घुटनों का दर्द कम करने के लिए हल्दी

घुटनों का दर्द कम करने के लिए हल्दी एक औषधि के रूप में इस्तेमाल की जाता है। हल्दी के उपयोग से घुटनों के दर्द में कुछ ही में राहत मिल सकती है। इसके लिए हल्दी और चूना को सरसो के तेल में थोड़ी देर गरम करके दर्द वाली जगह पर लगाने से थोड़ी ही देर में आराम मिल जाता है।

घुटनों के दर्द से राहत के लिए एलोवेरा

एलोवेरा के गूदे को हल्दी के साथ थोड़ा गर्म करके दर्द वाले जगह पर बांधने से घुटनों का दर्द, घाव, चोट लगने तथा त्वचा सम्बन्धी होने वाले दर्द से तुरंत राहत मिलती है।

घुटनों के दर्द के लिए अश्वगंधा एवं सोंठ पाउडर

अश्वगंधा एवं सोंठ पाउडर को घुटनों के दर्द के लिए आयुर्वेदिक दवा के रूप में इस्तेमाल किया जाता है इससे घुटने का दर्द और सूजन से काफी आराम मिलता है। इसके लिए 40 ग्राम अश्वगंधा पाउडर, 40 ग्राम गुड़ का पाउडर तथा 20 ग्राम सोंठ चूर्ण पाउडर लें। तीनों को अच्छी तरह से मिलाकर जोड़ों एवं घुटनों के दर्द में इस चूर्ण को 5-5 ग्राम मात्रा में सुबह शाम गर्म दूध के साथ लेने से घुटनों में हो रहे दर्द से काफी आराम मिलता है।

घुटनों के दर्द की समस्या के लिए मेथी

रोजाना सुबह और शाम खाना खाने के बाद मेथी दाना का पाउडर आधा या एक चम्मच गर्म पानी के साथ लेने से घुटनों में हो रहे दर्द से काफी राहत मिल सकती है क्योंकि मेथी दाना एंटी-इंफ्लामेट्री होता है। जिससे दर्द से तुरंत राहत मिलती है।

घुटनों के दर्द से आराम के लिए लौंग

किसी भी प्रकार का सूजन तथा दर्द में लौंग का इस्तेमाल करना बहुत फायदेमंद होता है। जोड़ों के दर्द के लिए लौंग का तेल दर्द वाली जगह पर लगाने से तुरंत आराम मिलता है।

घुटनों के दर्द के लिए अदरक का सेवन

अदरक में एंटीऑक्सीडेंट के गुण होने की वजह से इसका इस्तेमाल रोजाना किया जाता है अदरक के रोजाना इस्तेमाल से सूजन तथा घुटनों के दर्द में भी राहत मिल सकता है।

घुटनों के दर्द से राहत के लिए हल्दी और दूध

किसी भी प्रकार का दर्द या हड्डियों के दर्द से राहत पाने के लिए दूध और हल्दी का सेवन बहु लाभकारी होता है। इसके लिए एक गिलास दूध में एक चम्मच शुद्ध हल्दी पाउडर मिलकर सुबह-शाम पीने से हड्डियों के दर्द तथा सूजन से राहत मिलती है।

घुटनों के दर्द से राहत पाने के लिए मसाज

200 ग्राम सरसों के तेल में छिला हुआ 8 से 10 कली लहसुन, सोंठ पाउडर, मेथी और अजवाइन को अच्छे से उबालकर पका लें और उसे एक कांच की शीशी में भरकर रख लें। इस तेल से सुबह-शाम घुटनों की मालिश करने से घुटनों के दर्द से काफी आराम मिलता है।

घुटनों के दर्द का प्राकृतिक उपचार

रोजाना सुबह कुछ देर के लिए धूप में टहलने से भी जोड़ों के दर्द की समस्या से काफी राहत मिलती है क्योंकि सूरज से उत्पन्न धूप विटामिन-डी का अच्छा श्रोत होता है जिससे शरीर को प्राकृतिक विटामिन-डी मिलती है जो की हमरे शरीर और हड्डियों के लिए बहुत फायदेमंद होती है।

इस लेख के जरिए हमने आपकों घुटनों का दर्द को करें जड़ से खत्म आयुर्वेदिक उपाय | ghutno ka dard के बारे में बताया है। मुझे आशा है कि आप घुटनों का दर्द के बारे में अच्छी तरह जान गए होंगे अगर अभी भी आपको कुछ सवाल पूछना है तो नीचे कमेंट में जरूर लिखें या अपनी राय हमें देना चाहते हैं तो जरूर दीजिए ताकि हम आपके लिए कुछ नया कर सकें और यदि आप इस लेख से संतुष्ट हैं तो अपने दोस्तों को अवश्य शेयर करें।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Recent Posts

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending

%d bloggers like this: