Connect with us

Diet

लीची खाने के फायदे और नुकसान

Published

on

लीची खाने के फायदे और नुकसान- लीची (Litchi) एक प्रकार का मीठा फल है जो दिखने में हरा और पकने के बाद लालगुलाबी रंग का होता है। इसके अंदर का गुदा खाने के प्रयोग में लाया जाता है। लीची के अंदर एक भूरे रंग का बड़ा बीज भी होता है। लीची के पेड़ को बढ़ने के लिए उष्णकटिबंधीय जलवायु की जरूरत पड़ती है।

लीची को इंग्लिश में क्या कहते हैं?

आइये जानते हैं की लीची को इंग्लिश में क्या कहते हैं? और इसका वैज्ञानिक नाम क्या है। लीची को इंग्लिश में lychee कहते है और इसका वैज्ञानिक नाम Litchi Chinensis है। इसको पेड़ पर उगने वाला रसगुल्ला भी कहते है। लीची का एकमात्र सदस्य जीनस है। इसका परिवार सोपबैरी है। यह ऊष्णकटिबन्धीय फल है। लीची अपने स्वाद के अलावा आयुर्वेद में कई सारे औषधीय गुणों की वजह से प्रसिद्ध है।

लीची में पाए जाने वाले पोषक तत्व

लीची (lichi) में पाए जाने वाले पौष्टिक तत्व जैसे- विटामिन-C, कैलोरी प्रोटीन, फाइबर, फैट, शुगर, कॉपर, पोटैशियम आदि। इसके अलावा लीची में राइबोफ्लेबिन, बीटा कैरोटीन, फोलेट, नियासिन और एंटीऑक्सीडेंट के गुण भी होते है।

लीची के उपयोगी भाग

नाम उपयोग
लीची का फल खाने में
लीची के पत्ते पीसकर शरीर पर लगाने में
लीची की जड़ काढ़ा बनाने में
लीची का तना काढ़ा बनाने में
लीची के बीज काढ़ा बनाने में

लीची खाने के फायदे

लीची खाने के फायदे हमें निम्नलिखित रूप से मिलते हैं क्योंकि लीची में बहुत सारे पोषक तत्व होने के कारण लीची को औषधि के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है। आइये जानते हैं की लीची खाने से कौन-कौन सी बीमारियों से बचा जा सकता है।

 

पेट के लिए लीची खाने के फायदे

पेट के लिए लीची खाने के फायदे निम्नलिखित रूप से मिलते हैं क्योंकि लीची का सेवन पेट के पाचन शक्ति को बढाती है। लीची फाइबर युक्त होती है जिससे पेट में कब्ज जैसी समस्या दूर हो जाती है। लीची (Litchi) पेट की समस्या के अलावा आंतों की क्रिया में वृद्धि लाता है। लीची के प्रयोग से भोजन जल्दी पचता है और पेट भी स्वथ्य बना रहता है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता के लिए लीची

रोग प्रतिरोधक क्षमता के लिए लीची खाने के फायदे हमें निम्नलिखित रूप से मिलते हैं क्योंकि लीची के रस का प्रयोग शरीर के लिए बहुत फायदेमन्द होता है। यह शरीर को रोग से लड़ने की क्षमता को बढ़ाता है जिससे मौसम की वजह से होने वाली छोटी-छोटी बीमारिया जैसे- सर्दी, जुखाम, खांसी, बुखार आदि जल्दी नहीं होते है। और हमरा शरीर स्वथ्य बना रहता है। रोग प्रतिरोधक क्षमता के लिए लीची खाने के फायदे बहुत है।

वजन कम करने के लिए लीची के फायदे

वजन कम करने के लिए लीची खाने के फायदे हमें निम्नलिखित रूप से मिलते हैं क्योंकि लीची में कैलोरी अधिक नहीं होता है और यह फाइबर युक्त होता है जिससे शरीर की चर्बी गलने लगती है। फाइबर की वजह से पेट भरा रहता है और बार-बार भूख नहीं लगती है। जिससे आप अपना वजन नियंत्रित कर सकते है।

कैंसर से बचाव के लिए लीची

लीची के प्रयोग से शरीर में कैंसर कोशिकाओं का विकास नहीं होता है। क्योकि इसमें एंटीकैंसर का गुण होता है। इसके अलावा लीची (Litchi) शरीर में फ्री रेडिकल्स के द्वारा मेटाबोलिज्म के प्रभाव को भी कम करता है और इससे होने वाली बीमारी से बचाता है।

स्वथ्य ह्रदय के लिए लीची

लीची में विटामिन्स, मिनिरल्स और एंटीऑक्सीडेंट जैसे तत्व होते है जो ह्रदय स्वाथ्य में बहुत लाभकारी होते है। लीची (lichi) को नियमित रूप से खाने से दिल का दौरा पड़ने की संभावना कम हो जाती है। इसके अलावा यह ह्रदय की कार्य क्षमता को भी बढ़ाता है।

मुँह के स्वास्थ्य के लिए लीची

जिन लोगों को मुँह के छाले जैसी हो जाती है उनको लीची (Litchi) के पेड या तने की छाल का काढ़ा बहुत फायदा करता है। तैयार काढ़े को मुँह में लेकर कुल्ला करने से मुँह के छाले और दुर्गन्ध जैसी समस्या कम हो जाती है।

गले की खराश के लिए लीची

कई बार गलत खान-पान और मौसम के बदलाव के कारण गले में दर्द और खराश जैसी समस्या हो जाती है। इसको ठीक करने के लिए आप लीची (lichi) के पेड़ या तने की छाल को लेकर उसे पानी में डालकर के उबाल ले और तैयार काढ़े से गरारा करे। इस तरह से गले का दर्द और खराश ठीक होने लगेगा।

आँखों के लिए लीची खाने के फायदे

आँखों के लिए लीची खाने के फायदे हमें निम्नलिखित रूप से मिलते हैं क्योंकि लीची के सेवन से आँखों में मोतियाबिंद जैसी बीमारी कम होने लगती है। इसमें मौजूद पौष्टिक तत्व आँखों के लिए बहुत फायदा करता है। लीची (Litchi) आँखों की रोशनी को लम्बे समय तक बरकरार रखने में मदद करती है।

शरीर में ऊर्जा के लिए लीची के फायदे

लीची खाने से शरीर में तुरंत ऊर्जा का अनुभव होता है। लीची (lichi) के प्रयोग से पेट ठंडा और दिमाग शांत रहता है। यह शरीर में लम्बे समय तक ऊर्जा बनाये रखता है जिससे थकान नहीं होती है।

https://www.youtube.com/watch?v=9XVITdSLIB4

लीची खाने के नुकसान

  • मधुमेह रोगियों को लीची (Litchi) को निश्चित मात्रा में ही खाना चाहिए।
  • लीची के अत्यधिक सेवन से शरीर के हर्मोन्स में गड़बड़ी हो सकती है।
  • गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिला को भी लीची का प्रयोग करने से पहले अपने चिकित्सालय में परामर्श जरूर लेना चाहिए।
  • बहुत सारी लीची एक साथ खाने से गले में खराश हो सकती है।

लीची खाने से क्या नुकसान?

लीची के अत्यधिक सेवन से शरीर के हर्मोन्स में गड़बड़ी हो सकती है।

लीची कैसे खाएं?

कई बार गलत खान-पान और मौसम के बदलाव के कारण गले में दर्द और खराश जैसी समस्या हो जाती है। इसको ठीक करने के लिए आप लीची (lichi) के पेड़ या तने की छाल को लेकर उसे पानी में डालकर के उबाल ले और तैयार काढ़े से गरारा करे। इस तरह से गले का दर्द और खराश ठीक होने लगेगा।

लीची फल को इंग्लिश में क्या कहते हैं?

लीची को इंग्लिश में lychee कहते है और इसका वैज्ञानिक नाम Litchi Chinensis है। इसको पेड़ पर उगने वाला रसगुल्ला भी कहते है।

लीची कब खाना चाहिए?

लीची का सेवन पेट के पाचन शक्ति को बढाती है। लीची फाइबर युक्त होती है जिससे पेट में कब्ज जैसी समस्या दूर हो जाती है। लीची (Litchi) पेट की समस्या के अलावा आंतों की क्रिया में वृद्धि लाता है। लीची के प्रयोग से भोजन जल्दी पचता है और पेट भी स्वथ्य बना रहता है।

हमें उम्मीद है यह लेख लीची खाने के फायदे और नुकसान आपको बहुत पसंद आया होगा अगर अभी भी आपको लीची खाने के फायदे के बारे में कुछ सवाल पूछना है तो नीचे कमेंट में जरूर लिखें या अपनी राय हमें देना चाहते हैं तो जरूर दीजिए ताकि हम आपके लिए कुछ नया कर सकें और यदि आप इस लेख से संतुष्ट हैं तो अपने दोस्तों को अवश्य शेयर करें

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Recent Posts

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending

%d bloggers like this: