Connect with us

Home remedies

मकड़ी के काटने से क्या होता है? घरेलु उपाय

Published

on

इस लेख में जानेंगे की मकड़ी के काटने से क्या होता है? और मकड़ी के काटने के घरेलु उपाय क्या हो सकते हैं। इसलिए इस लेख को ध्यान से पढ़े ताकी कभी आपको इस समस्या का सामना करना पड़े तो आपको कोई परेशानी ना हो।

मकड़ी क्या है?

मकड़ी एक आर्थोपोडा संघ का प्राणी और एक प्रकार का किट है। इसका शरीर सिफेलोथोरेक्स और उदर में बँटा रहता है। इसमें श्वसन बुक लंग्स द्वारा होता है। इसके सिरोवक्ष से चार जोड़े पैर लगे रहते हैं। मकड़ी को इंग्लिश में Spider कहते हैं।

मकड़ी के काटने से क्या होता है?

इसके पेट में एक थैली होती है जिससे एक चिपचिपा पदार्थ निकलता है जिससे यह जाल बुनता है। यह मांसाहारी किट है। जाल में कीड़े-मकोड़ों को फंसाकर खा जाता है। इसकी लगभग 40,000 प्रजातियां हैं।

मकड़ी के काटने से क्या होता है?

आइये जानते हैं कि मकड़ी के काटने से क्या होता है? और मकड़ी के काटने से हमें किस समस्याओं का सामना करना पड़ता है। वैसे तो मकड़ी के काटने से ज्यादातर कुछ नहीं होता है बस काटने वाले स्थान पर थोड़ी खुजली हो सकती है पर कई मामलों में यह गंभीर भी हो सकता है।

  • मकड़ी के काटने पर खुजली या जलन हो सकती है।
  • काटने वाली जगह पर अधिक दर्द हो सकता है।
  • मांसपेशियों में ऐंठन, जकड़न और जोड़ों में दर्द हो सकता है।
  • मकड़ी के काटने वाली जगह पर लाली या सूजन हो सकता है।
  • बुखार, ठंड लगना, उल्टी या मतली आदि की समस्या हो सकती है।
  • कुछ मामलों में एलर्जिक शॉक की भी समस्या हो सकती है।

मकड़ी के काटने पर घरेलु उपचार

आमतौर पर मकड़ी के काटने पर काटने वाली जगह पर लालिमा या सूजन हो जाता है जो कि अपने आप ठीक हो जाता है। लेकिन कुछ ख़ास तरह की जहरीली मकड़ियों के काटने पर इलाज की जरूरत पड़ सकती है। ज्यादातर मामलों में आप घर पर ही आसानी से घरेलु उपाय से इस समस्या का इलाज कर सकते है।

  • बर्फ को एक कपड़े में लपेटकर काटने वाली जगह पर रखने से दर्द और सूजन काम होती है।
  • संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए घाव को साबुन या पानी से धोएं।
  • दर्द को कम करने के लिए आइबूप्रोफेन दर्द निवारक दवा ले सकते हैं।
  • खुजली को कम करने के लिए एंटीहिस्टामाइन दवा ले सकते हैं।
  • फफोले होने पर एंटीबायोटिक क्रीम लगा सकते हैं।

मकड़ी के काटने पर आयुर्वेदिक उपचार

मकड़ी के काटने पर कुछ आयुर्वेदिक उपचार हैं जिनका उपयोग करके आप इस समस्या का इलाज कर सकते हैं।

हल्दी->

हल्दी में एंटी बैक्टीरियल गुण पाए जाने के कारण यह मकड़ी के काटने के कारण हो रहे दर्द और सूजन से राहत दिला सकती है। इसके लिए थोड़ी सी हल्दी में ऑलिव ऑयल को अच्छे से मिलाकर काटने वाली जगह पर लगाने से थोड़ी देर में ही आराम मिल सकता है।

बेकिंग सोडा->

बेकिंग सोडा में मौजूद छारीय पदार्थ विष को बाहर करने का काम करता है और दर्द तथा सूजन से राहत दिलाने का काम करता है। इसके लिए एक चम्मच बेकिंग सोडा में तीन चम्मच पानी को अच्छे से मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें फिर इस पेस्ट को काटने वाली जगह पर लगाए फिर 10 मिनट बाद इसे साफ कर दे। इससे बहुत जल्द राहत मिलती है।

एस्पिरिन->

एस्पिरिन में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पाए जाने के कारण यह दर्द और सूजन को कम करने में बहुत ही लाभकारी होता है। इसके लिए एस्पिरिन की एक या दो गोली को पानी में अच्छे से मिलाकर एक पेस्ट तैयार कर लें फिर इसे मकड़ी के काटने वाली जगह पर लगाकर कुछ घंटों के लिए छोड़ दे फिर ठंडे पानी से धो लें इससे बहुत जल्द राहत मिलती है।

पत्ता गोभी->

पत्ता गोभी के पत्तों का रस विषाक्त पदार्थों को बाहर करने में मदद करता है। इसके लिए कच्चे पत्ता गोभी के पत्तों को पीसकर काटने वाले स्थान पर लगाकर रातभर के लिए छोड़ दें। फिर सुबह ठंडे पानी से धो लें।

मकड़ी के काटने पर क्या होता है?

मकड़ी के काटने पर खुजली या जलन हो सकती है।
काटने वाली जगह पर अधिक दर्द हो सकता है।
मांसपेशियों में ऐंठन, जकड़न और जोड़ों में दर्द हो सकता है।

मकड़ी काट ले तो क्या करें?

हल्दी में एंटी बैक्टीरियल गुण पाए जाने के कारण यह मकड़ी के काटने के कारण हो रहे दर्द और सूजन से राहत दिला सकती है। इसके लिए थोड़ी सी हल्दी में ऑलिव ऑयल को अच्छे से मिलाकर काटने वाली जगह पर लगाने से थोड़ी देर में ही आराम मिल सकता है।

क्या मकड़ी जहरीली होती है?

आमतौर पर मकड़ी के काटने पर काटने वाली जगह पर लालिमा या सूजन हो जाता है जो कि अपने आप ठीक हो जाता है। लेकिन कुछ ख़ास तरह की जहरीली मकड़ियों के काटने पर इलाज की जरूरत पड़ सकती है।

इस लेख के जरिए हमने आपकों मकड़ी के काटने से क्या होता है? घरेलु उपाय के बारे में बताया है। मुझे आशा है कि आप मकड़ी के काटने से क्या होता है? इसके बारे में अच्छी तरह जान गए होंगे अगर अभी भी आपको कुछ सवाल पूछना है तो नीचे कमेंट में जरूर लिखें या अपनी राय हमें देना चाहते हैं तो जरूर दीजिए ताकि हम आपके लिए कुछ नया कर सकें और यदि आप इस लेख से संतुष्ट हैं तो अपने दोस्तों को अवश्य शेयर करें।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Recent Posts

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending

%d bloggers like this: