Connect with us

Home remedies

सुबह खाली पेट तुलसी खाने के फायदे और नुकसान

Published

on


सुबह खाली पेट तुलसी खाने के फायदे और नुकसान- तुलसी को भारतीय औषधि में विशेष स्थान दिया गया है। क्योकि तुलसी के उपयोग से कई सारी बीमारियाँ दूर हो जाती है। हिन्दू धर्म में तुलसी को एक पवित्र पौधा माना गया है और इसको माँ के रूप में पूजा भी जाता है। तुलसी की तासीर गर्म होती है। तुलसी के पत्तों के उपयोग से बहुत सारे लाभ होते है।

Table of Contents

तुलसी को इंग्लिश में क्या कहते हैं?

तुलसी को इंग्लिश में Basil कहते हैं और तुलसी का वैज्ञानिक नाम Ocimum tenuiflorum है।

तुलसी कितने प्रकार की होती हैं?

तुलसी कई प्रकार की होती है लेकिन मुख्य रूप से तुलसी के तीन प्रकार होते हैं।

No. 1राम तुलसी
No. 2कृष्णा तुलसी
No. 3वन तुलसी

सुबह खाली पेट तुलसी खाने के फायदे

सुबह खाली पेट तुलसी खाने के फायदे हमारे शरीर को निम्नलिखित रूपों में मिलते हैं क्योंकि तुलसी के पत्तों में बहुत सारे औषधीय गुण पाए जाते हैं जो हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। आइये जानते हैं की सुबह खाली पेट तुलसी खाने के फायदे क्या-क्या होते हैं। और इससे कौन-कौन सी बीमारियों से छुटकारा पाया जा सकता है।

सुबह खाली पेट तुलसी खाने के फायदे

लगभग हर कोई सुबह चाय पीना पसंद करता है अगर चाय की जगह तुलसी की चाय या फिर तुलसी का पानी पिया जाये तो बहुत सी बीमारियों से छुटकारा मिल सकता है।

  • खांसी की समस्या दूर हो सकती है।
  • कब्ज की समस्या ख़तम हो सकती है।
  • दिमाग ताजा रहता है।
  • खून साफ और पतला होता है।
  • सर्दी जुखाम से राहत मिल सकती है।
  • दर्द से आराम मिल सकता है।

आंखों के लिए तुलसी के फायदे

आंखों के लिए तुलसी के फायदे निम्नलिखित रूप से मिलते हैं क्योंकि जिनको रात में कम दिखाई देने की समस्या होती है जिसे रतौंधी कहा जाता है। इस बीमारी के लिए तुलसी के पत्तों का रस 2 से 3 बूंद दिन में 1 से 2 बार आंखों में डालने से रतौंधी की समस्या से छुटकारा मिल सकता है। और आँखों की रोशनी भी बढ़ने लगती है।

हृदय रोग की समस्या के लिए तुलसी के फायदे

तुलसी के 10 से 12 पत्ते, 5 से 6 काली मिर्च और 4 से 5 बादाम को पीसकर आधे गिलास पानी में शहद के साथ लेने से ह्रदय रोग की समस्या से काफी राहत मिलती है।

पथरी की समस्या के लिए तुलसी

सुबह खाली पेट तुलसी खाने के फायदे– तुलसी की कुछ पत्तियों को उबालकर उसका जूस बनाकर लगातार 6 महीनो तक पीने से पथरी की समस्या से छुटकारा मिल सकता है।

सांप के काटने पर तुलसी खाने के फायदे

सांप के काटने पर तुलसी की कुछ पत्तियों को तुरंत खिला देने से उसकी जान बचाई जा सकती है। इसके लिए तुलसी की जड़ को पीसकर सांप के काटने वाले जगह पर लगाए तथा तुलसी की कुछ पत्तियों का रस पिलाये।

चेहरे पर निखार लाने में तुलसी के फायदे

तुलसी में रुक्ष और रोपण गुण होने के कारण चेहरे का खोया हुआ निखार लाने के लिए तुलसी का उपयोग बहुत ही फायदेमंद होता है। तुलसी में रक्त शोधक गुण होने के कारण तुलसी का सेवन करने से चेहरा चमकदार होता है।

सांसों की दुर्गन्ध के लिए तुलसी का उपयोग

सांसों की दुर्गंध की समस्या से राहत पाने के लिए तुलसी का उपयोग कर सकते हैं क्योंकि तुलसी में दीपन और पाचन गुण की वजह से सांसों की दुर्गंध की समस्या से काफी हद तक राहत मिल सकती है।

खुजली और दाद में तुलसी के फायदे

सुबह खाली पेट तुलसी खाने के फायदे- तुलसी में रोपण गुण होने के कारण दाद और खुजली की समस्या से राहत पाने के लिए तुलसी का सेवन बहुत फायदेमंद होता है। तुलसी में रक्त शोधक गुण होने से दाद और खुजली से राहत मिलने के साथ-साथ चेहरे में भी चमक आ जाती है।

मासिक धर्म की अनियमितता में फायदेमंद तुलसी के बीज

मासिक धर्म की अनियमितता में तुलसी के बीज का सेवन बहुत फायदेमंद होते हैं क्योंकि तुलसी के बीज में वात दोष को नियंत्रण करने का गुण होता है जो की मासिक धर्म की अनियमितता को नियंत्रित करने में सहायक होता है।

बुखार से राहत के लिए तुलसी

तुलसी के 8 से 10 पत्ते तथा 5 से 7 लौंग को कूटकर इसे एक गिलास पानी में तब तक उबालें जब तक इसका पानी आधा न हो जाये। अब इसे छानकर गरम ही पिलाये उसके बाद चादर ओढ़कर सुलाए जिससे की पसीना आ सके। ऐसा करने से बुखार से तुरंत राहत मिलता है। और सर्दी जुकाम भी ठीक हो जाता है।

मलेरिया के लिए तुलसी का पौधा

सुबह खाली पेट तुलसी खाने के फायदे- तुलसी का पौधा मलेरिया प्रतिरोधी होता है जिसकी वजह से मलेरिया के मच्छर तुलसी के पौधे के आस-पास नहीं रहते हैं जिस कारण मलेरिया होने की संभावना काफी कम हो जाती है। और तुलसी का काढ़ा बनाकर पीने से मलेरिया बीमारी से राहत मिलती है।

रोग प्रतिरोधक छमता बढ़ाने में फायदेमंद तुलसी के बीज

रोग प्रतिरोधक छमता बढ़ाने के लिए तुलसी का बीज बहुत ही फायदेमंद होता है। इसके लिए 10 ग्राम तुलसी के बीज के चूर्ण में 20 ग्राम मिश्री को पीसकर अच्छी तरह से मिलकर रख लें। अब इस मिश्रण को सर्दियों के मौसम में रोजाना एक ग्राम का सेवन करने से रोग प्रतिरोधक छमता बढ़ती है तथा वात एवं कफ से जुड़े रोगो से मुक्ति मिलती है।

सफेद दाग को दूर करने के लिए तुलसी

तुलसी के पत्तों का रस, नींबू का रस और कसौंदी का रस तीनो बराबर मात्रा में एक तांबे के बर्तन में 24 घंटे के लिए धूप में रखकर छोड़ दें। फिर इसका लेप सफ़ेद दाग वाली जगह पर करने से सफ़ेद दाग जैसी समस्या से छुटकारा मिल सकता है। और साथ ही चेहरे पर चमक भी आ जाती है।

तुलसी का पानी कैसे तैयार करें?

तुलसी का पानी कैसे बनाये- एक गिलास पानी में 3-4 तुलसी की पत्तियाँ डालकर उसको तब तक उबालें जब तक पानी आधा न हो जाये। फिर उसे छान लेते है। इस तरह तुलसी का पानी तैयार हो जाता है और फिर हम उसका इस्तेमाल करते हैं।

तुलसी की चाय (काढ़ा) कैसे बनाये- जिस तरह एक सामान्य चाय बनती है उसमे थोड़ा सा तुलसी के पत्तो को डाल देने से वह तुलसी की चाय हो जाती है और इसकी सुगंध काफी अच्छी होती है।

तुलसी के कितने पत्ते खाने चाहिए?

तुलसी के 5 से 7 पत्तों का सेवन लाभदायक होता है

क्या तुलसी गर्म होती है?

तुलसी की तासीर गर्म होती है।

तुलसी का काढ़ा पीने से क्या होता है?

तुलसी के 10 से 12 पत्ते, 5 से 6 काली मिर्च और 4 से 5 बादाम को पीसकर आधे गिलास पानी में शहद के साथ लेने से ह्रदय रोग की समस्या से काफी राहत मिलती है।

तुलसी के पत्तों से क्या फायदा होता है?

सुबह खाली पेट तुलसी खाने के फायदे– तुलसी की कुछ पत्तियों को उबालकर उसका जूस बनाकर लगातार 6 महीनो तक पीने से पथरी की समस्या से छुटकारा मिल सकता है।

इस लेख के जरिए हमने आपकों सुबह खाली पेट तुलसी खाने के फायदे और नुकसान के बारे में बताया है। मुझे आशा है कि आप सुबह खाली पेट तुलसी खाने के फायदे के बारे में अच्छी तरह जान गए होंगे अगर अभी भी आपको कुछ सवाल पूछना है तो नीचे कमेंट में जरूर लिखें या अपनी राय हमें देना चाहते हैं तो जरूर दीजिए ताकि हम आपके लिए कुछ नया कर सकें और यदि आप इस लेख से संतुष्ट हैं तो अपने दोस्तों को अवश्य शेयर करें।

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Recent Posts

Advertisement
Advertisement
Advertisement

Trending

%d bloggers like this: